The Amazing Facts

लेनीन की जीवनी | Lenin Biography in Hindi

SHARE
, / 940 0
Lenin Biography In Hindi
Lenin
पूरा नाम व्लादिमीर इल्यिच उलियानोव
जन्म 10 अप्रैल 1870
जन्मस्थान सिम्बर्स्क (रूस)
पत्नीनादेज्दा क्रुपस्काया
शिक्षा 1891 में कानून की परिक्षा पास की
नागरिकतारूस (रशिया)

 

रूसी क्रांतिकारी व्लादिमीर लेनीन (Vladimir Lenin Biography in Hindi)

व्लादिमीर लेनिन ज्यादातर लेनिन के नाम से जाना जाता हे। लेनिन मार्क्सवादी विचारधारा के नायक थे। उन्होंने कई क्रांतिकारी गतिविधियों की थी बाद लेनिन की अध्यक्षता में सोवियत सरकार की स्थापना भी हुई। Russian Revolutionary Vladimir Lenin

 

प्रारंभिक जीवन (Lenin Early Life) :

लेनिन का जन्म 22 अप्रैल 1870 को सिम्बर्स्क में हुआ था। अपनी राजनैतिक गतिविधियों के कारण उन्हें कॉलेज से निकाल दिया गया। उसके बाद वे सेंट पीटर्सबर्ग़ चले गए और वहाँ पर क्रांतिकारी गतिविधियों में शामिल होते रहे। 1891 में उसने पीट्‌सबर्ग विश्वविद्यालय से विधि-शास्त्र में उपाधि प्राप्त की और एक उग्रवादी दल का सदस्य बन गया।

 

क्रांतिकारी गतिविधियां (Lenin Revolutionary Activities) :

मार्क्सवादी विचारधारा के अनुरूप उसने मजदूरों के हितों के लिए क्रान्तिकारी संगठन बनाया। रूस के जार ने उसकी क्रांतिकारी गतिविधियों को देखकर 1897 से 1900 तक उसे देश से निर्वासित कर दिया। उसे पकड़कर जेल में भी डाला गया था।

उन्हें साइबेरिया में निर्वासन भुगतना पड़ा। 1907 के बाद इनको रूस में रहना असुरक्षित लगने लगा और इस कारण वे पश्चिमी यूरोप चले गए। स्विट्ज़रलैंड में बसे लेनिन को जर्मन मदद इस आशा के साथ मिली कि वो रूसी सैन्य प्रयासों को कमज़ोर करने में मदद करेंगे। इस घटना की वजह से उन्हें अक्सर एक जर्मन जासूस की नज़र से भी देखा गया।

1905-07 में उसने रूस की प्रथम क्राति के समय जनसाधारण को उभाड़ने और लक्ष्य की ओर अग्रसर करने में बोलशेविकों के कार्य का निदेशन किया। अवसर मिलते ही नवंबर, 1905 में वह रूस लौट आया।

सशस्त्र विद्रोह की तैयारी कराने तथा केंद्रीय समिति की गतिविधि का संचालन करने में उसने पूरी शक्ति से हाथ बँटाया और करखानों तथा मिलों में काम करनेवाले श्रमिकों की सभाओं में अनेक बार भाषण किया। Lenin Biography in Hindi

 

सोवियत सरकार की स्थापना (Lenin Soviet Government) :

1917 में उन्होंने रूस के पुननिर्माण योजना बनाई और सफल हुए। उन्होंने केरेन्सकी की सरकार पलट दी और 7 नवम्बर, 1917 को लेनीन की अध्यक्षता में सोवियत सरकार की स्थापना हुई। रूस का राजा बनने के बाद के बाद लेनीन अपने देश को विकसीत करने का प्रयत्न किया था कड़े अनुशासन के साथ देश पर नियंत्रण रखा। 

लेनीन रूस के इतिहास में ही नहीं विश्व इतिहास के कर्णधारों में एक अग्रणी नाम है। उन्होंने रूस की काया पलट कर के सारे विश्व को ही आश्चर्य चकित कर दिया। उन्ही के प्रयत्नों से रूस में समाजवाद की स्थापना हुई थी। मार्क्स के स्वप्न को साकार करने का श्रेय भी लेनीन को ही जाता है। 

 

मृत्यु (Lenin Death) :

21 जनवरी, 1924 को क्रांतिकारी व्लादिमीर लेनीन की मृत्यु हो गई। 

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply