The Amazing Facts

नसीरुद्दीन शाह की जीवनी | Naseeruddin Shah Biography in Hindi

SHARE
, / 3120 0
Naseeruddin Shah
Naseeruddin Shah
नामनसीरुद्दीन शाह
जन्म     20 जुलाई 1949
जन्मस्थान बाराबंकी, उत्तर प्रदेश
पिता मोहम्मद शाह
माता     फर्रुख सुल्तान
पत्नीमनारा सीकरी, रत्‍ना पाठक
व्यवसायअभिनेता
नागरिकताभारतीय

 

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah Biography in Hindi) :

नसीरुद्दीन शाह बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के बहोत अनुभवी और जानेमाने अभिनेता हैं। वो अपने कोई भी किरदार पूरे दिल से करते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने अपना पूरा जीवन फिल्म इंड्रस्टी को समर्पित कर दिया और इसके साथ उन्होने असंख्य बॉलीवुड की अच्छी फिल्मो भी कीं है। साथ ही पाकिस्तान इंडस्ट्री की फिल्म ‘खुदा के लिए’ में उन्होंने एक किरदार निभाकर पाकिस्तानी जनता को बहोत प्रभावित किया था। Bollywood Actor Naseeruddin Shah

 

प्रारंभिक जीवन (Naseeruddin Shah Early Life) :

नसीरुद्दीनजी का जन्म 20th जुलाई साल 1949 में भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के बाराबंकी गांव के एक मुसलमान कुटुंब में हुआ था। उनके पिताजी का नाम मोहम्मद शाह था और माताजी का नाम फर्रुख सुल्तान था। नसीरुद्दीन उनके मातापिता की कुल तीन बच्चो में से थे। नसीरुद्दीन जब मात्र 14 साल के थे, तबसे उन्होंने सिनेमा-घर में कार्य करना आरंभ किया था। नसीरुद्दीन का पहला थिएटर शो ‘मर्चेंट ऑफ वेनिस’ था।

 

शिक्षा (Naseeruddin Shah Education) :

नसीरुद्दीन शाह नें अपनी शुरूआती पठाई अजमेर में सैंट एन्सलम्स स्कुल और बाद में नैनीताल के सैंट जोसेफ़ कॉलेज से पूर्ण की। 1971 में अलीगढ़ के मुस्लिम विश्वविद्यालय में कला में बेचलर पूरा किया। इसके बाद उन्होंने दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में भी हिस्सा लिया। Naseeruddin Shah Biography in Hindi

 

विवाह (Naseeruddin Shah Marriage) :

नसीरुद्दीनजी ने दो बार विवाह किया, पहली बार विवाह मनारा सीकरी के साथ हुआ। इस विवाह से उन्‍हें एक लड़की हीबा शाह हुई। बाद में उनकी पत्‍नी की मृत्‍यु हो गई और नसीरुद्दीन ने दूसरी बार विवाह रत्‍ना पाठक से की। इस विवाह से उनको दो बच्‍चे हुए, जिसका नाम इमाद और विवान रखा गया, फ़िलहाल वो दोनों अभिनेता हैं।

 

फिल्मी करियर (Naseeruddin Shah Filmy Career) :

साल 1975 में उन्होंने ‘निशांत’नामक की एक फिल्म से अपने फिल्म करियर की शुरुआत की। उसके बाद नशरुद्दीन ने कई सारे फिल्मों में कार्य किया। साल 1977 में उन्होंने कुछ साथिओ के साथ मिलकर एक थिएटर ग्रुप बनाया, इसे फ़िलहाल ‘मोटली प्रोडक्शन’ कहा जाता है।

नशरुद्दीन का पहला ड्रामा सैमुअल बेकेट का ‘वेटिंग फॉर गोडोट’ था, इस को बाद में 1979 में पृथ्वी थिएटर हिस्सा कर लिया गया। साथ ही, वो मूवी हम पंछ के साथ प्रमुख धारा के बॉलीवुड सिनेमा में शामिल किये गए। Naseeruddin Shah Movie List

1983 में उन्ही की मुख्य फिल्म ‘मासूम’ आई, और यह फिल्म नैनीताल में सेंट जोसेफ कॉलेज में शूट किया गया था, इस जगह पर उन्हीने अपनी शुरूआती पढाई की थी। 1970 से 1980 के समय में नशरुद्दीन ने कई सारे फिल्मों में अभिनय किया जैसे की :

  • गुलामी (1985)
  • कर्मा (1986)
  • इज्जत (1987)
  • जलवा (1988)
  • हीरो हीरालाल (1989)

साल 1988 में उन्होंने गुलज़ार साहेब के जरिए डायरेक्ट की गई और मिर्ज़ा ग़ालिब के जीवन से आधारित टी. वी. की सीरीज में भी काम किया। बहोत सी फिल्मो में अभिनय करने के बाद साल 1994 में उन्होंने उनकी 100वीं फिल्म ‘मोहरा‘ में कार्य किया। और इस फिल्म बहोत सफल रही, उनकी भूमिका के लिए काफी प्रशंसा भी हुई, फिर फिल्म ‘हे राम’ में उन्होंने महात्मा गांधी की भूमिका बहोत अच्छी तरह से निभाई।

फिर साल 2008 में ‘वेडनेस डे‘ नामक फिल्म की, इस फिल्म में उन्होंने एक सामान्य व्यक्ति की भूमिका निभाई। और इस फिल्म की काफी प्रसंसा भी हुई। इस फिल्म के लिए उनको सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर पर फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए निर्देश भी किया गया था। इसके बाद उन्होंने 2011 में विद्या बालन के साथ ‘द डर्टी पिक्चर‘ में भी कार्य किया।

 

विदेशी फिल्मों में अभिनय (Naseeruddin Shah Role in Foreign Films) :

साल 2003 में नशरुद्दीन ने हॉलीवुड अभिनेता सीन कॉनरी के साथ हॉलीवुड फिल्म ‘द लीग ऑफ एक्स्ट्राऑर्डिनरी जेंटलमेन’ में अभिनय किया। साथ साथ उन्होंने पाकिस्तानी फिल्म ‘खुदा के लिए’ में भी छोटा सा रोल किया। और बाद में दूसरी पाकिस्तानी फिल्म ‘जिंदा भाग’ में उनको सर्वोत्तम विदेशी भाषा फिल्म पुरस्कार के लिए चुना गया। Naseeruddin Shah Biography in Hindi

 

 पुरस्कार (Naseeruddin Shah Awards) :

  • साल 1980, 1981, 1982, 1984 और 1985 में उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार दिया गया।
  • 1990 में उन्हें ‘संगीत नाटक अकादमी’ पुरस्कार मिला।
  • 2000 में नकारात्मक भूमिका के लिए आईफा अवार्ड मिला।
  • 2002 में बेस्ट एंकर के लिए आईटीए अवार्ड मिला।
  • 2003 में भारत सरकार द्वारा ‘पद्म भूषण’ अवार्ड मिला था।
  • 2007 में सहायक अभिनेता के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला।

_

Leave A Reply