The Amazing Facts

नेल्सन मंडेला की जीवनी | Nelson Mandela Biography in Hindi

SHARE
, / 672 0
Nelson Mandela Biography In Hindi
Nelson Mandela
नाम  नेल्सन मंडेला
जन्म  18 जुलाई 1918
जन्मस्थानमवेज़ो, दक्षिण अफ़्रीका
पितागादला हेनरी म्फ़ाकनीसवा
मातानोकापी नोसकेनी
पत्नीग्रेचा मचेल
पुत्रमकागाथो, मदीबा थेमबिकाइल
व्यवसायदक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति
पुरस्कारनोबेल शांति पुरस्कार, भारत रत्न
नागरिकतादक्षिण अफ़्रीकी

 

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपिता नेल्सन मंडेला (Nelson Mandela Biography in Hindi) :

नेल्सन मंडेला Nelson Mandela दक्षिण अफ़्रीका के भूतपूर्व प्रसिद्ध राष्ट्रपति थे। नेल्सन मंडेला यहाँ के प्रथम अश्वेत राष्ट्रपति बने थे। उन्होंने अपनी ज़िंदगी के 27 वर्ष रॉबेन द्वीप पर कारागार में रंगभेद नीति के ख़िलाफ़ लड़ते हुए बिताए। नेल्सन मंडेला अब्राहम लिंकन, मार्टिन लूथर किंग और महात्मा गांधी जी के विचारो पर चलने वाले व्यक्ति थे। रंगभेद के खिलाफ चलाये गए आंदोलन के लिए उन्हें उम्रकैद की सजा हुवी। आम जनता से दूर रखने के लिए उन्हें रोबन द्वीप पर भेज दिया गया। यह दक्षिण अफ़्रीका का कालापानी माना जाता है। अंत में उनकी जीत हुवी और नोबेल पुरूस्कार से भी सम्मानित किया गया।

 

प्रारंभिक जीवन (Nelson Mandela Early Life) :

नेल्सन मंडेला का जन्म 18 जुलाई,1918 को बासा नदी के किनारे ट्रांस्की के मवेंजो गाँव में हुआ था। नेल्सन मंडेला को दक्षिण अफ्रिका के गाँधी नेल्सन मंडेला के नाम से भी जाने जाते है वे अपनी माँ नोसकेनी की प्रथम और पिता की सभी संतानों में 13 भाइयों में तीसरे थे। मंडेला के पिता हेनरी म्वेजो कस्बे के जनजातीय सरदार थे। स्थानीय भाषा में सरदार के बेटे को मंडेला कहते थे, जिससे उन्हें अपना उपनाम मिला। 

 

शिक्षा (Nelson Mandela Education) :

मंडेला ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा क्लार्कबेरी मिशनरी स्कूल से पूरी की। उसके बाद की स्कूली शिक्षा मेथोडिस्ट मिशनरी स्कूल से ली। उनकी स्नातक शिक्षा हेल्डटाउन में हुई थी। ‘हेल्डटाउन’ के लिए बनाया गया विशेष कॉलेज था। इसी कॉलेज में मंडेला की मुलाकात ऑलिवर टाम्बो से हुई, जो जीवन भर उनके दोस्त और सहयोगी रहे। Nelson Mandela Biography in Hindi

 

शादी (Nelson Mandela Marriage) :

मंडेला ने तीन शादियाँ कीं जिन से उनकी 6 संतानें हुई। 1944 को उन्होंने अपने मित्र और सहयोगी वॉल्टर सिसुलू की बहन इवलिन मेस से शादी की। 1961 में मंडेला पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया गया परन्तु उन्हें अदालत ने निर्दोष पाया। इसी मुकदमे के दौरान उनकी मुलाकात अपनी दूसरी पत्नी नोमजामो विनी मेडीकिजाला से हुई। 1998 में अपने 80वें जन्मदिन पर उन्होंने ग्रेस मेकल से विवाह किया। Nelson Mandela Biography in Hindi

 

राजनीति करियर (Nelson Mandela Political Carrer) :

1944 उन्होंने अपने मित्रों और सहयोगियों के साथ मिल कर ‘अफ़्रीकन नेशनल कांग्रेस यूथ’ लीग की स्थापना की। 1947 में वे लीग के सचिव चुने गये। नेल्सन की विचार शैली और काम करने की क्षमता से लोग प्रभावित होने लगे। African President Nelson Mandela

इसी बीच अपने आप को क़ानून का बेहतर जानकार बनाने के लिए नेल्सन ने क़ानून की पढ़ाई शुरू कर दी, लेकिन अपनी व्यस्तता के कारण वे एल.एल.बी. की परीक्षा पास करने में असफल रहे। इस असफलता के बाद उन्होंने एक वक़ील के तौर पर काम करने के बजाय अटार्नी के तौर पर काम करने के लिए पात्रता परीक्षा पास करने का फ़ैसला किया।

इसी बीच अफ़्रीकन नेशनल कांग्रेस को चुनावों में करारी पराजय का सामना करना पड़ा। कांग्रेस के अध्यक्ष को पद से हटाकर किसी नए अध्यक्ष को लाने की माँग ज़ोर पकड़ने लगी। यूथ कांग्रेस के विचारों को अपनाकर मुख्य पार्टी को आगे बढ़ाने का विचार रखा गया।

वाल्टर सिसुलू ने एक कार्ययोजना का निर्माण किया, जो ‘अफ़्रीकन नेशनल कांग्रेस’ के द्वारा स्वीकार कर लिया गया। 1951 में नेल्सन को ‘यूथ कांग्रेस’ का अध्यक्ष चुन लिया गया। नेल्सन ने अपने लोगों को क़ानूनी लड़ाई लड़ने के लिए 1952 में एक क़ानूनी फ़र्म की स्थापना की।

 

गिरफ़्तार (Nelson Mandela Arrested) :

1962 को उन्हें मजदूरों को हड़ताल के लिये उकसाने और बिना अनुमति देश छोड़ने के आरोप में गिरफ़्तार कर लिया गया। उन पर मुकदमा चला और 12 जुलाई 1964 को उन्हें उम्रकैद की सजा सुनायी गयी। जीवन के 27 वर्ष कारागार में बिताने के बाद अन्ततः 11 फ़रवरी 1990 को उनकी रिहाई हुई। 

 

राष्ट्रपति बने (Nelson Mandela As a President) :

रिहाई के बाद समझौते और शान्ति की नीति द्वारा उन्होंने एक लोकतान्त्रिक और बहुजातीय अफ्रीका की नींव रखी। 1994 में दक्षिण अफ़्रीका में रंगभेद रहित चुनाव हुए। अफ़्रीकन नेशनल कांग्रेस ने 62 प्रतिशत मत प्राप्त किये और बहुमत के साथ उसकी सरकार बनी। 10 मई 1994 को मंडेला अपने देश के सर्वप्रथम राष्ट्रपति बने। नेल्सन मंडेला बहुत हद तक महात्मा गांधी की तरह अहिंसक मार्ग के समर्थक थे। उन्होंने गांधी को प्रेरणा स्रोत माना था और उनसे अहिंसा का पाठ सीखा था।

 

मृत्यु (Nelson Mandela Death) :

5 दिसम्बर 2013 को फेफड़ों में संक्रमण हो जाने के कारण मृत्यु हो गयी। मृत्यु के समय ये 95 वर्ष के थे। Nelson Mandela Biography in Hindi

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply