The Amazing Facts

ओम पूरी की जीवनी | Om Puri Biography in Hindi

SHARE
, / 980 0
Om Puri
Om Puri
नाम ओम प्रकाश पुरी
उपनाम फिल्मों का सिकंदर
जन्म18 अक्टूबर 1950
जन्मस्थानअंबाला, हरियाणा, भारत
पिता टेक चंद पुरी
मातातारा देवी
पत्नीनंदिता पुरी
पुत्रीनंदिता पुरी
पुत्रईशान पुरी
शिक्षानेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा
व्यवसायअभिनेता
पुरस्कारपद्म श्री
नागरिकताभारतीय

 

अभिनेता ओम पूरी (Om Puri Biography in Hindi) :

बॉलीवुड में, ओम पुरी अपने आप में एक अद्वितीय अभिनेता थे। अगर हम इनके प्रदर्शन की विविधता पर विचार करें, तो बहुत कम कलाकार उनकी बराबरी कर सकते हैं। इन्होंने व्यावसायिक और आर्ट्स दोनों प्रकार की फिल्मों में आसानी से काम किया। इनकी प्रभावशाली आवाज और स्क्रीन पर उपस्थिति आकर्षक थी। इन्होंने ब्रिटिश और अमेरिकी दोनों फिल्मों में काम किया था। Great Actor Of Om Puri

 

प्रारंभिक जीवन (Om Puri Early Life) :

ओम पुरी का जन्म 18 अक्टूबर, 1950 को हरियाणा के अम्बाला शहर में हुआ। उनका पूरा नाम ओम राजेश पुरी था। उनके पिता का नाम राजेश पुरी तथा उनकी माता का नाम तारा देवी था। उन्हें अपनी पहली नौकरी में सिर्फ पांच रूपये मिलते थे। सात साल की उम्र में चाय की दूकान में काम करने से लेकर भारतीय सिनेमा के मशहूर कलाकार के दर्जे तक पहुचने वाले ओमपुरी की यात्रा कठिन परिस्थितियों से भरी थी।

बचपन में उनके माता पिता को दो वक्त की रोटी के लिए भी काफी मेहनत करनी पडती थी। उन्होंने बहुत से काम किये, जिनमे ढाबे पर काम करना, चाय की दुकान पर काम करना और रेल्वे डिब्बो में से कोयला उतारना इत्यादि शामिल है। बाद में उनके और उनके भाई के बेटे को उनकी नौकर शांति ने पाल-पोसकर बड़ा किया।

 

शिक्षा (Om Puri Education) :

ओम पुरी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की। 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा दी। बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप “मजमा” की स्थापना की। Om Puri Biography in Hindi

 

निजी जीवन (Om Puri Married Life) :

1991 में पूरी ने अन्नू कपूर की बहन सीमा कपूर से शादी कर ली थी, लेकिन उनकी शादी केवल 8 महीनो तक ही टिक पाई। 1993 में उन्होंने जर्नलिस्ट नंदिता पूरी से शादी की, जिनसे उन्हें ईशान नाम का एक बेटा भी हुआ। 2009 में नंदिता ने अपने पति की जीवनी भी लिखी, जिसका नाम अनलाइकली हीरो दी स्टोरी ऑफ़ ओम पूरी है।

किताब के प्रकाशन के समय पूरी ने अपने रिश्तो और उनके गुस्से के बारे में बहुत कुछ बताया था। 2013 में नंदिता ने उनके खिलाफ घरेलु हिंसा का आरोप लगाया था। और इसके कुछ समय बाद ही कोर्ट ने उन्हें अलग-अलग रहने के आदेश दे दिए थे। Om Puri Biography in Hindi

 

ओम पूरी का फ़िल्मी करियर (Om Puri Movie Career) :

उन्होंने 15 से भी ज्यादा भाषाओं में कार्य किया था। 1975 में उन्होंने बच्चों के अधिकार को बढ़ावा देने के लिए फिल्म “चोर चोर छुप जा” में अभिनय किया जिसके लिए उन्हें 3000 रुपये का भुगतान किया गया था। 1976 की मुख्यधारा फिल्म शैली की मराठी फिल्म “घाशीराम कोतवाल” पूरी ने इस तरह की फिल्मो में प्रवेश किया, जो इसी नाम से विजय तेंडुलकर द्वारा रचित एक मराठी नाटक भी था। कहा जाता है, की इस फिल्म में उनके बेहतरीन काम के लिए उन्हें “मूंगफली” दी गयी थी।

ओम पुरी ने अभिनेता अमरीश पुरी, नसीरुद्दीन शाह, शबाना आज़मी और स्मिता पाटिल के साथ ‘भूमिका’ (1977), ‘भवानी भवई’ (1980), ‘सद्गति’ (1981) अर्ध सत्य (1982) और मिर्च मसाला (1986) जैसी कई फिल्मों में अभिनय किया। इसके बाद बहुत सी फिल्मो जैसे “आक्रोश” (1980), जिमी मेनेजर के किरदार वाली “डिस्को डांसर” (1982) और पुलिस इंस्पेक्टर के भूमिका वाली “अर्ध सत्य” में उनके किरदार और अभिनय की आलोचकों और दर्शको दोनों ने बहुत तारीफ़ की थी।

इसके लिए उन्हें बेस्ट एक्टर का नेशनल फिल्म अवार्ड भी मिला था। इसके बाद् फिल्म “जमाना” (1985) में उन्होंने “विनोद के अंकल”, “फिल्म माचिस” (1996) में उन्होंने सिक्ख उग्रवादीयो के जेल का मुख्य, कमर्शियल फिल्म “गुप्त” (1997) में कठोर पुलिस असफर और “धुप” (2003) में शहीद सैनिक के हिम्मती पिता का किरदार बड़े खुबसूरत तरीके से निभाया था।

1999 में पूरी ने कन्नड़ फिल्म “ए.के. 47” में एक सख्त पुलिस अधिकारी के रूप में काम किया था। फिल्मो में पूरी के अनिभय की लोग शुरू से ही सराहना करते थे। कन्नड़ डायलॉग के लिए उन्होंने उन्होंने बहुत सी फिल्मो में अपनी आवाज़ भी दी है। फिल्म गाँधी (डायरेक्टर रिचर्ड एटिनबोरौ) में पूरी महेमान भूमिका में भी दिखे थे। Om Puri Biography in Hindi

इसके बाद ब्रिटिश फिल्म “माय सन दी फनाटिक” (1997), “ईस्ट इस ईस्ट” (1999) और दी पैरोल ऑफिसर में काम करने के बाद उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना ली थी। इसके बाद वे हॉलीवुड फिल्मो में भी दिखे, जिनमे मुख्य रूप से “सिटी ऑफ़ जॉय” (1992), “वुल्फ” (1994), “दी घोस्ट एंड दी डार्कनेस” (1996) शामिल है। 2007 में वे चार्ली वाल्सन की फिल्म “वॉर” में वे जनरल जिया-उल-हक के रूप में दिखे थे।

फिल्म “रोड तो संगम” (2009) में पूरी ने मोहम्मद अली कसूरी का रोल निभाया था। 2010 में वे “दी हैंगमैन” में भी दिखे थे। 2011 में उन्होंने भारतीय एक्शन फिल्म “डॉन 2” की थी। उन्होंने फिल्म “द जंगल बुक” के हिंदी संस्करण में बघीरा के लिए अपनी आवाज दी। फिल्म द्रोहकाल, नरसिम्हा, घायल, मृत्युदंड, आस्था, हे राम, प्यार तो होना ही था, फ़र्ज़, ग़दर, लक्ष्य, देव, रंग दे बसंती, युवा, सिंह इस किंग, मेरे बाप पहले आप, बिल्लू, क्युकी, लक्ष्य, दबंग, भाजी इन प्रॉब्लम, खाप, बजरंगी भाईजान और घायल वन्स अगेन में उनके किरदार को लोगो और आलोचकों दोनों ने सराहा।

 

टीवी सीरीज (Om Puri Tv Series) :

2004 और 2005 में टीवी सीरीज आहात के दुसरे सीजन के कुछ एपिसोड में भी पूरी ने काम किया है। जिसे सोनी चैनल पर प्रसारित किया गया था। उनकी दूसरी टेलीविज़न उपस्थितियो में भारत एक खोज, यात्रा, मी.योगी, काकाजी कहिन, सी हॉक्स, अन्तराल और सावधान इंडिया का दूसरा सीजन शामिल है। 2014 में वे कॉमेडी-ड्रामा “दी हंड्रेड-फूट जर्नी” में वे हेलेन मिरेन के साथ दिखे।

 

पुरस्कार और सम्मान (Om Puri The Honors) :

  • ओम पुरी को फिल्म आक्रोश के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का फिल्मफेयर अवॉर्ड जीते  थे। (1980)
  • आरोहण के लिए दो राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीते थे। (1982)
  • ओम पुरी ने वर्ष अर्ध सत्य के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीते थे।
  • भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक अवार्ड पद्म से सम्मानित किया गया था। (1990)
  • ओम पुरी ने ब्रुसेल्स इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में फिल्म माई सन दि फेनाटिक के लिए क्रिस्टल स्टार बेस्ट एक्टर जीता। (1998) Om Puri Biography in Hindi
  • ओम पुरी को ब्रिटिश फिल्म उद्योग में काम करने के लिए ऑर्डर ऑफ दि ब्रिटिश एम्पायर, ओबीई (मानद) से सम्मानित किया गया था। (2004) 
  • उन्हें दादासाहेब फाल्के पुरस्कार भी दिया जाने वाला था। (2004)

मृत्यु (Om Puri Death) :

6 जनवरी, 2017 को 66 साल की उम्र में मुंबई के अँधेरी में अपने घरेलु मकान में ही ह्रदय विकार आने की वजह से उनकी मृत्यु हो गयी थी। 

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply