The Amazing Facts

सानिया मिर्ज़ा की जीवनी | Sania Mirza Biography in Hindi

SHARE
, / 1750 0
Sania Mirza Biography in Hindi
Sania Mirza
पूरा नाम सानिया मिर्ज़ा
जन्म        15 नवम्बर 1986
जन्मस्थान  मुंबई
पिता    इमरान मिर्ज़ा
माता   नसीमा मिर्ज़ा
पतिशोएब मलिक
पुत्रइज़हान मिर्ज़ा मलिक
व्यवसायभारतीय टेनिस खिलाड़ी
पुरस्कारपद्म भूषण, पद्म श्री, राजीव गांधी खेल रत्न
नागरिकताभारतीय

 

भारतीय टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza Biography in Hindi) :

सानिया मिर्ज़ा Sania Mirza भारतीय टेनिस खिलाडी है, इन्होने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई मैडल प्राप्त किए है और देश विदेश में भारत को गौरान्वित किया है। ये विश्व में एकल और डबल टेनिस दोनों खेलने वाली सर्वश्रेस्ट खिलाडी है। इन्होने कई एकल और डबल चैंपियनशिप में विजय प्राप्त की है। ये टेनिस में प्रसिद्धी प्राप्त करने के साथ ग्लैमर की दुनिया में भी लोकप्रियता हासिल कर चुकी है। ये कई टीवी शो में गेस्ट के रूप में आ चुकी है और कई विज्ञापन में भी काम कर चुकी है। 

 

प्रारंभिक जीवन (Sania Mirza Early Life) :

सानिया का जन्म 15 नवम्बर 1986 को मुंबई में हुआ था, लेकिन उनका होम टाउन हैदराबाद हैं। उनके पिता इमरान मिर्ज़ा खेल संवाददाता थे तथा उनकी माता नसीमा प्रिंटिंग के व्यवसाय में काम करती थी। सानिया की एक बहिन हैं जिसका नाम अनाम मिर्ज़ा हैं। Sania Mirza Birth Date

 

शिक्षा (Education) :

सानिया की प्रारंभिक शिक्षा हैदराबाद के एन ए एस आर स्कूल से हुई फिर हैदराबाद के सेंट मैरी कॉलेज से स्नातक किया। उन्होंने 11 दिसम्बर 2008 को चेन्नई में एम जी आर शैक्षणिक और अनुसंधान संस्थान विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की मानद उपाधि ली। Sania Mirza Biography in Hindi

 

शादी (Sania Mirza Marriage) :

सानिया ने अपने बचपन के दोस्त सोहराब मिर्जा से सगाई की लेकिन कुछ गलतफहमियों के कारण रिश्ता टूट गया। 12 अप्रैल 2010 को सानिया ने पारंपरिक मुस्लिम रीती-रिवाजो से हैदराबाद के ताज कृष्णा होटल में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से विवाह किया। जिसमे उन्हें पाकिस्तानी वैवाहिक रिवाजो के अनुसार शोएब के परिवार को 6.1 मिलियन रुपये देने पड़े। उनका एक बेटा इज़हान मिर्ज़ा मलिक है, जो 30 अक्टूबर 2018 में पैदा हुआ।

 

टेनिस करियर (Sania Mirza Tennis carrier) :

6 साल की आयु से ही सानिया ने टेनिस खेलना शुरू किया था। टेनिस का प्रशिक्षण उन्हें अपने पिता और सी जी कृष्ण भूपति से मिला था। हैदराबाद के निज़ाम क्लब से शुरुआत करने के बाद वह अमेरिका की एस टेनिस एक्रेडेमी गई जहां उन्हें रॉजर एंडरसन ने प्रशिक्षित किया।

1999 में उन्होंने जूनियर स्तर पर पहली बार भारत का प्रतिनिधित्व किया। सानिया जब 14 वर्ष की भी नहीं थी तब उन्होंने पहला आई.टी.एफ. जूनियर टूर्नामेंट इस्लामाबाद में खेला था।

2002 में भारत के शीर्ष टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस ने बुसान एशियाड के पूर्व 16 वर्षीय सानिया को खेलते देखा और निश्चय किया कि वह सानिया मिर्ज़ा के साथ डबल्स में उतरेंगे। फिर उन्होने इस देश को ब्रॉन्ज मेडल दिलाया।

उसके बाद सानिया ने 17 वर्ष की उम्र में 2003 में विंबलडन का जूनियर डबल्स चैंपियनशिप खिताब जीता था। 8 अगस्त, 2004 को सानिया मिर्ज़ा खेलों की सुर्खियों में रहीं। उनका प्रदर्शन व कामयाबी इस क़दर चर्चा में रही कि उसे भारत में सचिन तेंदुलकर के बाद सबसे बड़ा स्टार माना जाने लगा। Sania Mirza Biography in Hindi

2006 में दोहा एशियाई खेल में सानिया ने महिला एकल वर्ग में सिल्वर मेडल जीता और मिश्रित युगल वर्ग में गोल्ड मेडल जीता। अपने एकल कैरियर में, मिर्ज़ा ने स्वेतलाना कुंजनेट्सोवा, वेरा ज़्वोनारेवा और मैरियन बारटोली और पूर्व नंबर एक खिलाड़ी मार्टिना हिंगिस, दिनारा सफीना और विक्टोरिया अजारेंका को खेल में धुल चटाई थी।

2007 में सानिया मिर्ज़ा ने रैंकिंग में 27 वे स्थान पर काबिज़ थी, लेकिन कुछ समय बाद कलाई में लगी चोट के करण सानिया को अपना एकल करियर समाप्त करना पड़ा और तभी से वह डबल प्लेयर पर ज्यादा ध्यान देने लगी।

2009 में मिश्रित युगल वर्ग में उन्होंने महेश भूपति के साथ मिलकर ऑस्ट्रेलिया ओपन और 2012 में फ्रेंच ओपन का खिताब अपने नाम किया था। सानिया ने 2014 में, ब्राजील के टेनिस खिलाड़ी ब्रूनो सोरेस के साथ भागीदारी करके अमेरिका का मिश्रित युगल ओपन जीतने में कामयाब हुई थीं।

2013 में सानिया और मैटेक – सैंड्स ने दुबई ड्यूटी फ्री टेनिस चैंपियनशिप जीती, हालाँकि इन्हें ग्रैंड स्लैम नही मिला। फिर इन्होने दुसरे साथी कारा ब्लैक के साथ खेलना शुरू किया और इनकी इस जोड़ी ने स्पर्धा में अपनी जगह बनाई। Sania Mirza Biography in Hindi

2014 में सानिया और कारा ने यू एस ओपन के सेमीफायनल में पहुचे और ब्रूनो सोरेस के साथ मिश्रित युगल ख़िताब जीता। 2014 में ही इन्हें इंटरनेशनल प्रीमियर टेनिस लीग में भाग लिया और इस लीग में विजय प्राप्त की।

2015 में सानिया ने मार्टिना हिंगिस के साथ साझेदारी की और यह साझेदारी सफल रही। इस जोड़ी ने इन्डियन वेल्स और 2015 मियामी ओपन में जीत को अपने नाम कर लिया। इसी जोड़ी ने 2016 में ऑस्ट्रलियाई ओपन महिला युगल चैंपियनशिप में जीत हासिल की। 2018 में घुटने में चोट लगने के कारण ये आस्ट्रेलियाई ओपन में शामिल होने में असमर्थ रही। 

 

पुरस्कार और सम्मान (Sania Mirza Awards) :

  • 2004 में अर्जुन पुरुस्कार से सम्मानित।
  • 2005 में डब्ल्यूटीए न्यू कॉमर बनीं।
  • 2006 में पद्म श्री पुरुस्कार से सम्मानित।
  • 2014 खेलों में उत्कृष्टता के लिए हैंदराबाद महिला दशक एचीवर्स अवार्ड।
  • 2014 में, तेलंगाना सरकार ने सानिया मिर्ज़ा को अपने राज्य के ब्रांड एम्बेसडर के रूप में नियुक्त किया था।
  • 2015 में राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित।
  • 2016 में पद्म भूषण पुरुस्कारसे सम्मानित।

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply