The Amazing Facts

श्रीदेवी की जीवनी | Sridevi Biography in Hindi

SHARE
, / 949 0
Sridevi Biography In Hindi
Sridevi
वास्तविक नाम श्रीअम्मा यंगर अयप्पन
जन्म13 अगस्त 1963
जन्मस्थान मिनामपट्टी, तमिलनाडु
पिता  अयपन येंजर
माता  राजेश्वरी येंजर
पतिबोनी कपूर
पुत्रीजान्हवी कपूर, ख़ुशी कपूर
व्यवसायअभिनेत्री, निर्माता
डेब्यू मूवीकंधन करुनाई
पुरस्कारपद्म श्री
नागरिकताभारतीय

 

भारतीय अभिनेत्री श्रीदेवी (Sridevi Biography in Hindi) :

श्रीदेवी कपूर जो कि श्रीदेवी के नाम से प्रख्यात हैं, भारतीय फिल्मों की मशहूर अदाकारा हैं। जिन्होंने हिंदी फिल्मों के अलावा तमिल, मलयालम, तेल्गु, कन्नड़ और में भी काम किया है।अपनी वर्सटैलिटी और हिन्दी फिल्मों की बेहतरीन अभिनेत्री मानी जाने वाली श्रीदेवी ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म “सोलवां सावन” से 1979 में की थी। लेकिन उन्हें बॉलीवुड में पहचान फिल्म “हिम्मतवाला” से मिली। इस फिल्म के बाद वह हिंदी सिनेमा की सुपरस्टार अभिनेत्रीयों में शुमार हो गयीं। Indian Actress Sridevi

 

प्रारंभिक जीवन (Sridevi Early Life) :

मशहूर अभिनेत्री श्रीदेवी का जन्म तमिलनाडु के शिवाकाशी में 13 अगस्त 1963 को हुआ था। श्रीदेवी के पिता का नाम अय्यप्पन यंगर और उनकी माँ का नाम राजेश्वरी यंगर था। शादी से पहले उनके परिवार में माता पिता के अलावा 1 बहन और दो सौतेले भाई थे, इनके पिता शिवकाशी के ही रहवासी थे जबकि इनकी माता आँध्रप्रदेश की रहने वाली थी। इस कारण श्रीदेवी बचपन से ही तमिल और तेलगु दोनों ही भाषाओं का ज्ञान रखती थी।

 

निजी जीवन (Sridevi Personal Life) :

श्रीदेवी ने 1996 में निर्देशक बोनी कपूर से शादी की थी जो एक फिल्म प्रोड्यूसर और एक्टर अनिल कपूर के बड़े भाई थे। जिससे उन्हें दो बेटियाँ जान्हवी और ख़ुशी हुई।

 

चाइल्ड आर्टिस्ट करियर (Sridevi Child Artist Career) :

श्रीदेवी ने पहली फिल्म बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट थीं। नन्ही श्रीदेवी को मलयालम मूवी “पूमबत्ता” (1971) के लिए केरला स्टेट फिल्म अवार्ड से भी सम्मानित किया गया। उन्होंने चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में ही उन्होंने बॉलीवुड फिल्म “जूली” (1975) से अपने हिंदी फिल्म करियर की शुरुवात की थी।

13 साल की उम्र में उन्होंने तमिल फिल्म “मून्द्रू मुदिछु” (1976) से एडल्ट रोल की शुरुवात की थी। इसके बाद श्रीदेवी ने तमिल और तेलगु सिनेमा में खुद को एक होनहार एक्ट्रेस साबित किया, और “वयाथिनिले” (1977), से लेकर “क्षणा क्षणं” (1991) जैसी सुपरहिट फिल्मे की।

 

बॉलीवुड फिल्म करियर (Sridevi Bollywood Filmy Career) :

1979 में हिंदी फिल्म “सोलवां सावन” से की थी। हालंकि उन्हें बॉलीवुड में पहचान फिल्म 1983 में आई फिल्म “हिम्मतवाला” से मिली। इस फिल्म में उनके अपोजिट जितेंद्र नजर आये थे। यह फिल्म 1983 ब्लॉकस्बस्टर फिल्म थी। इसके बाद उन्होंने कई फिल्में जितेन्द्र के साथ की। उसके बाद उनकी फिल्म “तोहफा “आई जिसने उस दौर में कमाई के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे। 

1983 में फिल्म “सदमा” में श्रीदेवी दक्षिण सिनेमा के अभिनेता कमल हासन संग नजर आई।  इस फिल्म के लिए पहली बार फिल्मफेयर अवार्ड्स में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का नामंकन मिला था। Sridevi Biography in Hindi

1986 में आई फिल्म “नगीना” मे श्रीदेवी ने एक इच्छाधारी नागिन की भूमिका अदा की थी। यह फिल्म उस साल की दूसरी सुपर-डुपर हिट फिल्म साबित हुई थी। इसी फिल्म का गाना मै तेरी दुश्मन, दुश्मन तो मेरा एक आइकॉनिक गाना माना जाता है।

1987 में आई फिल्म “मिस्टर इंडिया” में श्री एक जर्नलिस्ट के किरदार में नजर आई। यह फिल्म साइंटिफिक थ्रिलर फिल्म थी।  इस फिल्म में उनके अपोजिट अनिल कपूर नज़र आये थे। फिल्म मिस्टर इंडिया का गाना हवा-हवाई आज भी दर्शकों के जुबान पर रहता है।

1989 में आई फिल्म “चालबाज” में श्रीदेवी दोहरी भूमिका में नज़र आई थीं। इस फिल्म के लिए उन्हें आलोचकों से काफी प्रशंसा मिली थी। श्रीदेवी को फिल्म चालबाज के लिए उन्हें उनके पहले फिल्म फेयर सर्वश्रेठ अभिनेत्री के पुरुस्कार से सम्मानित किया गया था।

इसके बाद साल 1991 में श्रीदेवी एक बार फिर यशराज की फिल्म “लम्हे” में दिखाई दी। फिल्म लम्हे के लिए श्रीदेवी को उनका दूसरा फिल्म फिल्मफेयर अवार्ड मिला था।

1992 में श्रीदेवी मेगास्टार अमिताभ बच्चन के साथ “खुदा गवाह” में नज़र आयीं थीं। उन्होंने इस फिल्म दो भूमिका अदा की थी। एक वॉरियर की दूसरी उसकी बेटी की। इस फिल्म की शूटिंग भारत के अलावा काबुल में भी हुई थी। फिल्म “काबुल” में उतनी ही लोकप्रिय साबित हुई जितनी भारत में।

इसी साल श्री देवी उस दौर की सबसे बड़े बजट की फिल्म “रूप की रानी चोरो का राजा” (1993) में अनिल कपूर संग नज़र आयीं। हालांकि फिल्म जितनी बड़े बजट की उतनी ही बुरी उसे बॉक्स ऑफिस पर मुंह की खानी पड़ी थी। इसके बाद श्रीदेवी “लाडला” (1994) और फिल्म “जुदाई” (1997) में नजर आई।

1996 में निर्देशक बोनी कपूर से शादी के बाद श्रीदेवी ने फ़िल्मी दुनिया से अपनी दूरी बना ली थी। लेकिन इस दौरान वह कई टीवी शोज में नजर आई। श्रीदेवी ने साल 2012 में गौरी शिंदे की फिल्म इंग्लिश विंग्लिश से रूपहले परदे पर अपनी वापसी की और उनके बेहतरीन अभिनय से आलोचकों और दर्शकों को चौंका दिया था।

 

पुरस्कार (Sridevi Awards) :

  • 2013 में भारत सरकार ने उन्हें “पद्म श्री” देकर सम्मानित भी किया।
  • 2013 में “ग्रेटेस्ट इंडियन एक्ट्रेस इन 100 इयर्स” के राष्ट्रिय पोल में भी उन्हें शामिल किया गया था।
  • अपने फ़िल्मी करियर में श्रीदेवी ने कुचल पाँच फिल्मफेयर अवार्ड जीते है।

 

सुपरहिट फिल्मे (Sridevi Superhit Movie List) :

  • सोलवाँ सावन (1978)
  • हिम्मतवाला (1983)
  • सदमा (1983)
  • मवाली (1983)
  • तोहफा (1984)
  • नया कदम (1984)
  • मास्टरजी (1985)
  • मकसद (1985)
  • नगीना (1986)
  • नजराना (1987)
  • मी. इंडिया (1987)
  • वक़्त की आवाज़ (1988)
  • चालबाज़ (1989)
  • चांदनी (1989)
  • लम्हे (1991)
  • खुदा गवाह (1992)
  • गुमराह (1993)
  • लाडला (1993)
  • जुदाई (1997)

 

मृत्यु (Sridevi Death) :     

श्रीदेवी की मृत्‍यु 24 फरवरी 2018 को दुबई के एक होटल में बाथटब में डूबने से हो गई। श्रीदेवी उस समय नहाने के लिये बाथरूम में थीं लेकिन बहुत देर तक बाथरूम से न निकलने पर उनके पति बोनी कपूर दरवाजा तोड़कर अंदर गये और देखा की वह डूब चुकी हैं। उन्‍हें तत्‍काल अस्‍तपताल ले जाया गया लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुकी थीं। Sridevi Biography in Hindi

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply