The Amazing Facts

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी | Thomas Alva Edison Biography in Hindi

SHARE
, / 874 0
Thomas Alva Edison Biography In Hindi
Thomas Alva Edison
पूरा नाम थॉमस अल्वा एडिसन
जन्म      11 फ़रवरी 1847
जन्मस्थान मिलन, ऑहियो, संयुक्त राज्य अमेरिका
पिता      सेमुअल ओग्डेन एडिसन
माता      नैंसी मैथ्यु इलियट
पत्नी मैरी स्टिलवेल, मीना मिलर
पुत्र चार्लीस एडिसन, थॉमस अलवा एडिसन, थियोडोर मिलर एडिसन
व्यवसाय अमेरिकी आविष्कारक
पुरस्कार तकनीकी ग्रैमी पुरस्कार
राष्ट्रीयता अमेरिकन

 

वैज्ञानिक थॉमस एडिसन (Thomas Alva Edison Biography in Hindi) :

थॉमस एडिसन अमेरिका के महान अविष्कारक और व्यवसायी थे। उनका पूरा नाम थॉमस ऐल्वा एडिसन था। थॉमस एडिसन ने विधुत बल्ब, फोनोग्राफ जैसे अनेको चीजो की खोज की है। एडिसन को विश्व का पहला प्रयोगशाला स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है। थॉमस एडिसन दुनिया के सबसे महान आविष्कारको में गिने जाते है क्योकि अमेरिका में इन्होने अकेले ही 1093 पेटेंट अपने करने वाले एकलौते इंसान है। Thomas Alva Edison Biography in Hindi

 

प्रारंभिक जीवन (Thomas Alva Edison Early Life):

थॉमस एल्वा एडिसन का जन्म 11 फरवरी, साल 1847 को अमेरिका के ओहियो राज्य के मिलन शहर में हुआ था। उनकी माता का नाम नैंसी मैथ्यु और उनके पिता का नाम सैमुएल ऑग्डेन एडिसन था। सात भाई-बहनों में थॉमस एडिसन सबसे छोटे थे। सुनाई कम देने के कारण 4 वर्ष की उम्र तक उन्होंने बोलना शुरू नहीं किया था। 4 वर्ष की उम्र के बाद उन्होंने धीरे-धीरे बोलना शुरू किया।

 

शिक्षा (Education):

उनकी स्कूली शिक्षा मात्र 12 सप्ताह चली। बचपन की बीमारी के बाद से एडिसन की श्रवण क्षमता क्षीण हो चुकी थी। स्पष्ट सुनाई न देने के कारण उन्हें एक बार में कोई भी पाठ समझ नहीं आ पाता था। साथ ही जिज्ञासु प्रवृत्ति होने के कारण वे शिक्षकों से कई प्रश्न किया करते थे। 

उनके प्रश्नों से तंग आकर उनके एक शिक्षक ने उन्हें ‘मंदबुद्धि’ करार दे दिया था। जब यह बात एडिसन की माँ तक पहुँची, तो उन्हें इतनी बुरी लगी कि उन्होंने एडिसन को स्कूल से ही निकाल लिया। वे एक शिक्षिका थी, अतः वे उन्हें घर पर ही पढ़ाने लगी। Thomas Alva Edison Biography in Hindi

 

व्यक्तिगत जीवन (Personal Life of Thomas Alva Edison)

1871 में क्रिसमस के मौके पर 24 साल के एडिसन ने 16 वर्षीय मैरी स्टिलवेल से शादी कर ली। मैरी से मुलाकात के सिर्फ दो महीने के अंदर ही एडिसन ने उन्हें शादी के लिए प्रपोज किया था। मैरी से उन्हें तीन बच्चे हुए।

1884 में लंबी बीमारी के बाद एडिसन की पत्नि मेरी की मृत्यु हो गई। अपनी पत्नि की मृत्यु उपरांत एडिसन ने मेलेनो पार्क छोड़ दिया और 1886 में मीना मिलर से दूसरा विवाह कर वेस्ट ऑरेंज के लेवेलिन पार्क स्थित घर में निवास करने लगे।

 

प्रोफेशनल करियर (Thomas Alva Edison Professional Career) :

थॉमस एडिसन ने लगभग 12 वर्ष की उम्र में एक रेलवे स्टेशन के पास समाचार पत्रों को बेचने का काम प्रारंभ कर दिया था। इस काम को करने के बाद बचे हुए पैसों से थॉमस एडिशन ने एक छोटी सी प्रयोगशाला बना ली थी। 

जिसमें थॉमस एडिसन प्रयोग करा करते थे। इसके बाद थॉमस एडिसन ने और काम किया एवं बचे हुए पैसों से प्रयोगशाला में लगने वाली रासायनिक सामग्री खरीद ली। समाचार पत्रों का काम पूरा करके बचे हुए समय में थॉमस अल्वा एडिसन प्रयोगशाला में  प्रयोग करते थे।

थॉमस अल्वा एडिसन का मानना था। कि कोई व्यक्ति अगर सुधार के रास्ते पर निरंतर प्रयास करें। तो वह अपने आने वाले समय में कुछ बड़ा कर सकता है। इसके बाद थॉमस एडिसन ने 15 वर्ष की उम्र तक रेलवे स्टेशन पर समाचार पत्र बेचे। Thomas Alva Edison Biography in Hindi

इसके उपरांत खुद की  एक समाचार पत्र छापने वाली कम का काम शुरू कर दिया। रोज की तरह वह समाचार पत्र बेच रहे थे। तब रेलवे स्टेशन के मास्टर ने उन्हें टेलीग्राम के बारे में बताया और इसके बाद थॉमस एडिसन ने 20 वर्ष की उम्र तक एक टेलिफोन ऑपरेटर के रूप में काम किया।

 

थॉमस का आविष्कार (Thomas Alva Edison Invention):

थॉमस अल्वा एडिसन अमेरिका के ही नहीं अपितु विश्व के महान वैज्ञानिकों में से एक थे। थॉमस अल्वा एडिसन ने अपने पूरे जीवन काल को नई नई खोजों और आविष्कारों को करने में बिता दिया। थॉमस एडिसन के द्वारा सर्वप्रथम इलेक्ट्रिकल मशीन को पेटेंट कराया गया।

इसके बाद भी थॉमस अल्वा एडिसन ने यूनिवर्सल स्टॉक प्रिंटर की खोज की। इन सब खोजों के बाद थॉमस एडिसन शांत नहीं बैठे। उन्होंने 1870 से 1876 के बीच अनेको वस्तुओं का आविष्कार किया और अपने काम में सफलता पाते गए।

थॉमस एडिसन में लगभग 2 वर्षों तक इस काम को निरंतर किया इसके पश्चात थॉमस एडिसन ने विद्युत बल्ब की खोज आरंभ कर दी थी। थॉमस एडिसन ने लगभग 1000 तरह के विद्युत बनाएं। पर बहन विफल रहे।

लेकिन थॉमस एडिसन का आश्चर्यजनक धैर्य शक्ति और साहस इतना मजबूत था। कि इतनी बार विफल होने के बाद भी थॉमस एडिसन ने हार नहीं मानी। और अपने कार्य को सफलता की ओर पहुंचाने का हर संभव प्रयास किया।

आखिरकार थॉमस एडिसन के द्वारा विद्युत बल्ब का आविष्कार 21 अक्टूबर 1879 को पूरा किया गया। विद्युत बल्ब को उन्होंने 40 घंटे से अधिक समय तक जलाया। यह आविष्कार थॉमस एडिशन के द्वारा विश्व को सबसे बड़ा तोहफा है। Thomas Alva Edison Biography in Hindi

 

थॉमस के द्वारा की गई खोजें (Invention List by Thomas Alva Edison) :

  • बैटरी (Battery)
  • इलेक्ट्रिक ट्रेन (Electric Train) 
  • इलेक्ट्रिक वोट रिकॉर्डर (Electric Vote Recorder)
  • ग्रामोफोन (Gramophone) 
  • लाइट बल्ब (Light Bulb)
  • फोनोग्राम (Phonogram)
  • कीनेटोस्कोप (Kinetoscope)

 

मृत्यु  (Thomas Alva Edison Death):

थॉमस एडिसन ने मेनलोपार्क और आरेंज कारखाने ने अपनी जिन्दगी के 50 सालो तक काम किया और अपने 1093 आविष्कारो के पेटेंट अपने नाम कर लिया। 18 अक्टूबर 1931 को विश्व के महान आविष्कारक थामस एल्वा एडिसन दुनिया से विदा ले कर चले गये। आज भी विश्वदेश भर में उनके आविष्कारो की प्रसंशाप्रशंसा होती है।

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply