The Amazing Facts

विजय माल्या की जीवनी | Vijay Mallya Biography in Hindi

SHARE
, / 832 0
Vijay Mallya Biography in Hindi
Vijay Mallya
नाम विजय विट्ठल माल्या
जन्म18 दिसंबर 1955
जन्मस्थानकोलकाता
पिता विट्ठल माल्या
माता ललिता राममैया
पत्नीरेखा माल्या, समीरा तैयबजी माल्या
पुत्रसिद्धार्थ माल्या
पुत्रीतान्या माल्या, लेंना माल्या
शैक्षिक योग्यता वाणिज्य स्नातक
व्यवसायभारतीय उद्योगपति
पुरस्कार2010 के द एशियाई अवार्ड्स “साल का सर्वश्रेष्ट उद्योगपति” का सम्मान
नागरिकताभारतीय

 

भारतीय उद्योगपति विजय माल्या (Vijay Mallya Biography in Hindi) :

विजय माल्या एक भारतीय व्यापारी है। वे संयुक्त ब्रुअरिस समूह और किंगफिशर एयरलाइन्स के अध्यक्ष है, जो संयुक्त ब्रुअरिस समूह के प्रमुख ब्रांड बियर, किंगफिशर से प्राप्त करता है। इसके साथ ही विजय माल्या भारतीय राज्य सभा के सांसद भी थे। वे भारत की फार्मूला वन टीम सहारा फ़ोर्स के सह-मालिक भी है। इसके साथ ही वे FIA के विश्व मोटर स्पोर्ट कौंसिल के सदस्य भी है।Vijay Mallya Biography in Hindi

 

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा (Vijay Mallya Early Life and Education) :

विजय माल्या का जन्म 18 दिसम्बर सन 1955 को पश्चिम बंगाल के कोलकाता शहर में हुआ। विजय माल्या के पिता विट्टल माल्या कर्नाटका के गौड़ सारस्वत ब्राम्हण परिवार से तअल्लुक़ रखते थे। इनकी माता का नाम ललिता रमैया था। विट्टल माल्या अपने समय में यूनाइटेड ब्रेवेरी ग्रुप के चेयरमैन थे। 

 

शिक्षा (Education) :

विजय माल्या की शुरूआती पढाई लिखाई कोलकाता के ला मार्टिनियर स्कूल से हुई। इसके बाद इन्होंने सैंट ज़ेवियर कॉलेज से कॉमर्स में होनौर्स के साथ स्नातक की पढाई पूरी की। अपने कॉलेज के दौरान विजय माल्या ने अपने पारिवारिक व्यापार में इंटर्न के तौर पर कार्य किया, तथा कालांतर में होचस्ट एजी के अमेरीकी विभाग में अमेरिका में रहते हुए इंटर्नशिप की।

 

शादी (Vijay Mallya Marriage) :

1986 में विजय माल्या ने एयर इंडिया के अंतर्गत एक एयर होस्टेस समीरा तैयबजी के साथ विवाह किया। इस विवाह से एक बेटा हुआ, जिसका नाम सिद्धार्थ माल्या है। एक बेटे के होने के बाद भी ये रिश्ता टिक नहीं पाया और बहुत जल्द इन दोनों में तलाक़ हो गया। 

इसके बाद जून 1993 में माल्या ने अपनी पत्नी रेखा से विवाह किया। रेखा से विजय की पहचान बचपन से रही है। रेखा माल्या के साथ इनकी दो बेटियां हैं। इन दो बेटियों का नाम लेंना माल्या तथा तनया माल्या है। 

 

बिज़नेस करियर (Vijay Mallya Business Carrier) :

1983 में सिर्फ 28 वर्ष की अवस्था में विजय माल्या को यूनाइटेड ब्रेवेरिएस ग्रुप का चेयरमैन बनाया गया। इस दौरान ये ग्रुप एक बहुराष्ट्रीय कंपनी के तौर पर अपनी पहचान बना चुका था, जिसमे तात्कालिक समय में कुल 60 कम्पनियां काम कर रही थीं। विजय माल्या की बियर कंपनी किंगफ़िशर भारत में पिए जाने बियर में लगभग आधे की हिस्सेदारी रखता है, तथा साथ ही भारत के बाहर लगभग 52 देशों में किंगफ़िशर बियर पीने वाले लोग मौजूद हैं। Vijay Mallya Biography in Hindi

2005 में विजय माल्या ने किंगफ़िशर एयर लाइन्स की स्थापना की। ये विजय माल्या के व्यापार का सबसे बड़ा रूप था। हालाँकि जल्द ही इसे बंद करना पड़ा। 2013 के दौरान किंगफिशर अपने कर्मचारियों के 15 महीनों की तनख्वाह देने में असमर्थ सिद्ध हुई, तथा इस एयरलाइन कंपनी का लाइसेंस रद्द कर दिया गया।

 

राजनीतिक करियर (Vijay Mallya Political Career) :

विजय माल्या सबसे पहले अखिल भारतीय जनता दल में शामिल हुए, जो सुभ्रमंयम स्वामी के साथ 2003 में जनता पार्टी में आ गये। 2010 में ये पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के अध्यक्ष भी रहे। 2002 में कांग्रेस का साथ पाकर ये कर्नाटक से राज्यसभा सदस्य के रूप में मनोनीत किये गये। दूसरी बार इन्हें भारतीय जनता पार्टी का साथ मिला और ये पुनः राज्यसभा सांसद मनोनीत किये गये।

 

विजय माल्या को हुए घाटे (Vijay Mallya Business Loss) :

किंगफिशर एक समय में देश की दूसरी सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी थी, किन्तु बहुत जल्द इसे घाटे में जाना पड़ा। 2013 के मार्च के महीने में इस कंपनी को करीब 2100 करोड़ रूपए के घाटे में देखा गया, जिसके पहले ये कम्पनी करीब 1100 करोड़ का घाटा सह चुकी थी।

2013 में किन्गफिशर का पिछले घाटों के साथ कुल घाटा 16023 करोड़ रूपए का था। इस आंकड़े में करीब 15000 करोड़ रूपए से भी ज्यादा बैंक, एअरपोर्ट समेत अन्य कई जगहों पर भरा जाना था। साल के अंत में इस एयरलाइन का लाइसेंस पूरी तरह रद्द हो गया. माल्या ने यूबी ग्रुप में कई बार शुरूआती फंडिंग के लिए पुनः प्रवर्तन योजना दायर की, किन्तु पिछले 8 सालों में एयर लाइन्स द्वारा एक बार भी लाभ न कमाने की वजह से काम अंजाम नहीं पा सका।

 

विजय माल्या ने लिया बैंको में ऋण (Vijay Mallya Bank Loan List) :

अपनी आलिशान ज़िन्दगी को बनाए रखने तथा अपने एयरलाइन्स कम्पनी को वजूद में रखने के लिए माल्या ने कई सरकार द्वारा नियंत्रित बैंको से ऋण लेना शुरू किया, ये ऋण अभी तक विजय माल्या द्वारा नहीं भरा जा सका है. कई बार बैंक कर्मियों ने इनके ख़िलाफ़ अपना मोर्चा भी निकाला. नीचे कुछ बैंको जिसमे उनका ऋण अभी तक है :

  • स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ़ इंडिया
  • बैंक ऑफ़ बरोदा
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया
  • सेंट्रल बैंक
  • कारपोरेशन बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • फ़ेडरल बैंक

 

पुरस्कार और सम्मान (Vijay Mallya Awards) :

  • 1997 में ‘साउथर्न कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय’ की तरफ़ से वाणिज्य शासन प्रबंध में मानद उपाधि दी गयी।
  • इसके अतिरिक्त उन्हें फ्रांस से “ऑफिसर डे ला डी’ होंनयूर” पुरस्कार।
  • वर्ल्ड इकॉनमी फोरम की तरफ से ‘ग्लोबल लीडर ऑफ़ टुमारो’।
  • 2010 में द एशियन अवार्ड ‘इंटरप्रेनर ऑफ़ द इयर’ तथा फेडरेशन ऑफ़ मोटरस्पोर्ट स्पोर्ट्स क्लब ऑफ़ इंडिया की तरफ़ से मोटरस्पोर्ट्स में योगदान के लिए ‘लाइफ़टाइम अचीवमेंट अवार्ड’ भी प्राप्त हुआ। Vijay Mallya Biography in Hindi

 

गिरफ्तारी (Vijay Mallya Arrested in UK) :

लन्दन में रह रहे विजय माल्या को स्कॉटलैंड यार्ड ने भारत ऑथोरिटी की तरफ से धोखा धडी के मामले में गिरफ्तार किया। इस केस में उन्हें लन्दन के वेस्टमिस्टर कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ उन्हें तीन घंटे के अन्दर ही जमानत मिल गयी। भारत सरकार ने विजय माल्या को पहले से ही देश से भगौड़ा घोषित कर रखा है।

विजय माल्या की गिरफ्तारी भारत के ‘सेंट्रल ब्यूरो ऑफ़ इन्वेस्टीगेशन एंड एन्फोर्समेंट’ की तरफ से किया गया आग्रह पर की गयी थी। हालाँकि भारत सरकार भ्रष्टाचार पर सख्त दिख रही है और सरकार ये उम्मीद बंधा रही है कि जल्द से जल्द विजय माल्या पर कार्यवाही की जायेगी। भारत सरकार के अधीन तमान ऐसी एजेंसियां विजय माल्या के पीछे लगी हुई है।

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply