The Amazing Facts

युवराज सिंह की जीवनी | Yuvraj Singh Biography in Hindi

SHARE
, / 494 0
Yuvraj Singh
Yuvraj Singh
पूरा नाम युवराज सिंह
निक नाम युवी
जन्म12 दिसंबर 1981
जन्मस्थानचंडीगढ, भारत
पिता योगराज सिंह
माता शबनम सिंह
पत्नीहेज़ल कीच
व्यवसायभारतीय क्रिकेटर
पुरस्कारपद्म श्री, अर्जुन अवार्ड
नागरिकताभारतीय

 

क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh Biography in Hindi) :

युवराज सिंह भारत के क्रिकेट के आलराउंडर खिलाड़ी है। वे बाए हाथ के मध्य क्रम बल्लेबाज है और धीमी गति से भी गेंदबाजी कर सकते है। युवराज सिंह ने साल 2007 के ICC टी20 वर्ल्ड कप में 6 गेंदों पर 6 छक्के लगाकर एक नया विश्व कीर्तिमान अपने नाम रचा था।

वे तीनो कप में भाग लेने वाले पहले खिलाडी बने थे जो ICC U-19 वर्ल्ड कप 2000 में, ICC T-20 वर्ल्ड कप 2007 में और ICC वर्ल्ड कप 2011 में इन तीनों वर्ल्ड कप को जीता था। कैंसर से लढने के बाद युवी ने अपना “You We Can” NGO खोला जहा अब तक 100 से ज्यादा कैंसर के मरीजो का इलाज हो चूका है।

 

युवराज सिंह का प्रारंभिक जीवन (Yuvraj Singh Early Life) :

युवराज सिंह का जन्म 12 दिसंबर 1981 को एक सिख परिवार में हुआ है। युवराज सिंह के पिता का नाम योगराज सिंह है और माता का नाम शबनम सिंह है। उनके माता-पिता के तलाक के बाद युवराज अपनी माता के साथ रहते थे। युवराज के पिता भी एक क्रिकेटर रहे हैं। योगराज सिंह क्रिकेटर होने के साथ-साथ फिल्मों में अभिनय भी कर चुके हैं।

बचपन में टेनिस और रोलर स्केटिंग युवराज के पसंदीदा खेल थे और युवराज दोनों भी खेल अच्छा ही खेलते थे। युवराज ने अन्तराष्ट्रीय अंडर-14 रोलर स्केटिंग चैंपियनशिप भी जीती है। लेकिन उनके पिता ने उनके सारे मेंडल्स फेक दिए थे और कहा था की वे सिर्फ क्रिकेट पर ही ध्यान दे। युवराज के पिता उन्हें रोज अभ्यास के लिए ले जाते थे। उन्होंने अपनी पढाई DAV पब्लिक स्कूल, चंडीगढ़ से की।

 

युवराज सिंह का शुरुआती करियर (Yuvraj Singh Starting Career) :

युवराज सिंह ने अपने करियर की शुरुआत 11 साल की उम्र में पंजाब अंडर-12 से नवंबर 1995 में जम्मू और कश्मीर खिलाफ की। इसके बाद सन 1996-1997 में इन्होंने पंजाब अंडर-19 से हिमाचलप्रदेश के खिलाफ मैच खेला।

युवराज ने अपनी सबसे लंबी पारी अंडर-19 की टीम में बिहार के विरुद्ध कोच बहार ट्राफी में खेलकर 358 रन बनाए थे। फिर युवराज ने 1999 से 2000 में हरियाणा के खिलाफ रणजी ट्राफी में 149 रन बनाए। Yuvraj Singh Biography in Hindi

2000 तक भारत में राष्ट्रीय लेवल में मैच खेले। इसके बाद उन्होंने 2000 में ही अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्डकप, जिसमें मोहम्मद कैफ़ की कप्तानी में भारत ने जीत हासिल की थी। युवराज के अंडर-19 वर्ल्ड कप में बेहतरीन प्रदर्शन के चलते उन्हें ICC नॉकआउट ट्राफी के लिए भारतीय टीम में चयनित किया गया। अपने ऑल राउंड प्रदर्शन से ‘प्लेयर ऑफ़ दी टूर्नामेंट अवार्ड’ हासिल किया।

 

युवराज सिंह अंतरराष्ट्रीय करियर (Yuvraj Singh International Cricket Career) :

उन्होंने अपना पहला वन डे अन्तर्राष्ट्रीय मैच केन्या के खिलाफ खेला। लेकिन यह टूर्नामेंट में भारत की जीत नहीं हुई किन्तु युवराज का इस टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन रहा। इसी टूर्नामेंट में युवराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 82 बॉल्स में 84 रन बनाये। इसके अलावा इसी टूर्नामेंट में श्रीलंका के खिलाफ भी इनका बहुत अच्छा प्रदर्शन रहा।

2002 में इंग्लैंड के खिलाफ नेटवेस्ट सीरीज में इंग्लैंड ने फाइनल्स में 324 रन्स का लक्ष्य बनाया, उस समय भारत ने एक के बाद एक विकेट गिरने के कारण भारत का स्कोर बहुत कम हुआ, भारत का स्कोर 135/5 था जब सचिन तेंदुलकर आउट हो गए। तब युवराज ने इस मैच में मोहम्मद कैफ़ के साथ पार्टनरशिप कर बेहतरीन प्रदर्शन दिया। उनकी बेहतरीन बैटिंग से भारत की जीत हुई।

2007 में राहुल द्रविड़ के इस्तीफे के बाद महेंद्र सिंह धोनी कप्तान के रूप में चुने गए, उसी समय युवराज को भारतीय क्रिकेट में उप कप्तान के रूप में चुना गया। इसी वर्ष युवराज ने पाकिस्तान के खिलाफ हुई सीरीज में 5 मैच में 4 अर्द्धशतक लगाकर “मैन ऑफ़ दा सीरीज” की ट्राफी हासिल की।

  • युवराज सिंह टी20 करियर (Yuvraj Singh T20 Carrer) :

टी20 में युवराज सिंह ने अभी तक 58 मैच में 51 इनिंग्स में 1177 रन बनाये हैं। युवराज सिंह की औसत 28 की रही है। साथ ही साथ युवराज सिंह की टी20 में स्ट्राइक रेट 136 की है। अपने टी20 करियर में युवराज सिंह ने कोई भी शतक नहीं लगाया है लेकिन यह इनके नाम 8 अर्धशतक जरूर हैं।

  • युवराज सिंह वनडे करियर (Yuvraj Singh ODI Career) :

वनडे में युवराज सिंह ने 304 मैच खेले और 8701 रन बनाये हैं। वनडे में युवराज सिंह की औसत 36. 56 की रही है। युवराज सिंह ने एकदिवसीय क्रिकेट में अभी तक 14 शतक और 52 अर्द्धशतक लगाए है। Yuvraj Singh Biography in Hindi

  • युवराज सिंह टेस्ट करियर (Yuvraj Singh Test Career) :

युवराज सिंह का टेस्ट करियर कोई खास नहीं रहा है। युवराज सिंह ने अपने क्रिकेट करियर में 40 टेस्ट मैच में 1900 रन बनाये हैं। युवराज का टेस्ट में 33.93 का औसत रहा है। युवराज ने 3 शतक और 3 अर्द्धशतक बनाये और उनके तीनों शतक पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच में थे।

 

युवराज सिंह ICC T20 वर्ल्ड कप 2007 में (Yuvraj Singh in ICC T20 World Cup 2007) :

2007 में T20 वर्ल्डकप में भारत का इंग्लैंड के खिलाफ मैच था, तब युवराज ने बॉलर स्टुअर्ट ब्रॉड को 6 बॉल्स में 6 छक्के लगाये और मात्र 12 बॉल्स में अपना अर्द्धशतक पूरा किया। उस समय का T-20 वर्ल्ड कप भारत के नाम हुआ। वे इस टूर्नामेंट के टॉप परफोर्मर भी रहे।

T20 वर्ल्डकप में सेमीफाइनल मैच में औस्ट्रीलिया के खिलाफ उन्होंने 30 गेंदों में 70 रन बनाए थे। युवराज ने उस टूर्नामेंट में सबसे बड़ा छक्का भी मारा था जो 119 मीटर का था। Yuvraj Singh Biography in Hindi

 

युवराज सिंह ICC ODI वर्ल्ड कप 2011 में (Yuvraj Singh in ICC ODI World Cup 2011) :

2011 में ICC वर्ल्ड कप में युवराज ने 4 बार “मैन ऑफ़ दा मैच अवार्ड” जीता। जिसके चलते इन्हें “मैन ऑफ़ दा टूर्नामेंट” का भी अवार्ड मिला। Yuvraj Singh Biography in Hindi

 

गंभीर बीमारी को सफलतापूर्वक सामना :

2011 में ही युवराज अपनी अब तक की जिन्दगी के सबसे कठिन पड़ाव से गुजर रहे थे, जब उन्हें यह पता चला कि उन्हें बाएँ लंग में कैंसर हुआ है जोकि स्टेज 1 में था। वे कीमोथेरेपी ट्रीटमेंट के लिए US के बोस्टन में कैंसर रिसर्च सेंटर में गए। लगभग 1 साल के अंदर 2012 में ही इनका इलाज पूरा कर के भारत वापस आ गए।

 

युवराज सिंह आईपीएल में (Yuvraj Singh IPL Career) :

युवराज सिंह आईपीएल के शरुआती 2 सीजन में किंग्स 11 पंजाब टीम के कप्तान बने। उस वक्त ये आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी थे।

आईपीएल में उनका यह अंदाज देखने को नहीं मिला। लोगों को उनसे बहुत उम्मीदें थी किन्तु वे उनकी उम्मीदों में खड़े नहीं उतर पाए। इस कारण अगले सीजन में इस टीम की कप्तानी कुमार संगकारा को दे दी गई।

2011 के आईपीएल में एक न्यू टीम पुणे वारियर्स में युवराज को ख़रीदा गया और कप्तान चुने गए। इसमें युवराज ने 14 मैच में 343 रन्स का स्कोर किया।

2014 में युवराज को 14 करोड़ में रोयल चंल्लेंजर्स बैंगलोर टीम ने ख़रीदा, किन्तु किंगफ़िशर के एक एम्प्लोयी ने युवराज को लैटर लिखा कि वे इस टीम के लिए न खेले।

2015 में युवराज को दिल्ली डेरडेविल्स टीम ने 16 करोड़ में ख़रीदा। 2016 में युवराज को सनराइज़र हैदराबाद ने 7 करोड़ में ख़रीदा। इस टीम में युवराज का काफ़ी अच्छा प्रदर्शन रहा।

 

युवराज सिंह का निजी जीवन (Yuvraj Singh Married Life) :

2015 में इन्होंने बॉलीवुड अभिनेत्री हेज़ल कीच के साथ सगाई की और 30 नवंबर 2016 को युवराज ने हेज़ल कीच के साथ शादी कर ली। Yuvraj Singh Biography in Hindi

 

युवराज सिंह की उपलब्धियां (Achievements of Yuvraj Singh) :

  • 2007 के ICC वर्ल्डकप T-20 मैच में इन्होंने 6 बॉल में 6 सिक्सेस लगाये।
  • पहले ऑल राउंडर बने जिन्होंने सिंगल वर्ल्डकप में 300 से ज्यादा रन्स और 15 से ज्यादा विकेट्स लिए।
  • 2011 के ICC वर्ल्डकप में इन्हें “मैन ऑफ़ दा टूर्नामेंट का अवार्ड” मिला।
  • 2012 में भारत के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी द्वारा “अर्जुन अवार्ड” से नवाजा गया।
  • 2014 में “पद्म श्री” अवार्ड से भी सम्मानित किया गया।
  • 2014 में इन्हें साल के सबसे प्रेरनादायी खिलाड़ी के रूप में FICCI अवार्ड के साथ सम्मानित किया गया।

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

Leave A Reply