The Amazing Facts

आई.ए.एस. अंसार शेख की प्रेरणादायक कहानी | Success Story of IAS Ansar Shaikh

SHARE
, / 3412 1
Success Story of IAS Ansar Shaikh
Ansar Shaikh
पूरा नामअन्सार अहमद शेख
जन्म1995
जन्मस्थानजालना गाँव, महाराष्ट्र
पितायूनुस शेख अहमद
व्यवसायIAS अधिकारी
नागरिकताभारतीय

 

IAS अंसार शेख (Success Story of IAS Ansar Shaikh) :

अंसार शेख ने 21 साल की उम्र में पहले प्रयास में ही देश का सन्मानित पद IAS अफसर की डिग्री प्राप्त की थी। कोई सोच नहीं सकता की, एक ऑटो रिक्शा चलाने वाले का बेटा आज आई ए एस की पोस्ट पर आ गया। अंसार शेख इतने होशियार और महेनतु थे, की किसी भी परिस्तिथि में अपने सपनों को साकार करने के लिये रास्ता धुंड ही लेते हैं।

अंसार शेख का परिवार (Family Information of Ansar Sheikh) :

अन्सार शेख का जन्म महाराष्ट्र के जालना शेडगांव में हुआ था। उनके पिता का नाम यूनुस शेख अहमद था। उनके पिता रिक्शा चलाते थे, और अपने परिवार का गुजरा करते थे। उनके पिताजी की तीन पत्नियां थी। लेकिन अन्सार की मां उनकी दूसरी पत्नी थी। उनके पिता की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण अपने बच्चो को पढ़ा ना सके। लेकिन उसमे से एक उनका बेटा अन्सार होसियार छात्र था। उनको परिस्थितियों को सर्वोत्तम संभव परिणाम देने की क्षमता थी।

अन्सार की मां खेतों में काम किया करती थी। उनके छोटे भाई अनीस ने 7वीं कक्षा तक पढाई करके स्कूल छोड़ दी थी। क्योकि उनके परिवार की आर्थिक मदद करने के लिए गेरेज में काम किया करते थे। और अपने भाई अन्सार को आई.ए.एस परीक्षा के लिए बहुत मदद करते थे। लेकिन उनका परिवार ऐसा था की शिक्षा को ज्यादा प्राथमिकता नहीं देते थे।

अन्सार ने कॉलेज में एडमिशन लिया, तब उनके पास केवल एक जोड़ी चप्पल और दो जोड़ी कपड़े थे। मराठी मीडियम में पढ़ाई करने के कारण उन्हें अंग्रेजी ठीक से समज नई आती थी। लेकिन उन्होंने कभी भी हार नहीं मानी थी। Success Story of IAS Ansar Shaikh

अन्सार का जब कॉलेज के फर्स्ट ईयर में आये तब कॉलेज के प्रोफेसर ने उन्हें UPSC सिविल की तैयारी करने की सलाह दी। और उन्हों ने पढ़ाई के साथ ही UPSC की कोचिंग क्लास में जाने का फैसला लिया। परन्तु आर्थिक स्थिति के कारण कोचिंग की फीस भरना उनके लिए बहुत मुश्किल था। Success Story of IAS Ansar Shaikh

अन्सार शेख ने एस.एस.सी बोर्ड की परीक्षा में 91% हासिल किया था। और वो पढ़ने में बहुत होसियार थे। अन्सार शेख का सपना पूरा करने में उनके परिवार को बहुत संघर्ष करना पड़ा था। Success Story of IAS Ansar Shaikh

अन्सार ने यू.पी.एस.सी सिविल सर्विस की तैयारी करने लिए एक निजी कोचिंग क्लास में जाते थे। और उस कोचिंग क्लास की फीस ज्यादा होने के कारण उनके परिवार को इस के लिए बहुत खर्चा उठाना पड़ता था, लेकिन जब अन्सार का अच्छा परिणाम देखकर उनके परिवार में सभी बहुत खुश होते थे। 

पहले एटेम्पट में सबसे युवा IAS अफसर (Ansar Became Youngest IAS Officer) :

अंसार शेख को पढ़ने की लगन और कुछ बनने इच्छा ने उन्हें सफलता हासिल की, और अंसार ने अपने प्रथम सेमिस्टर में (IAS) की परीक्षा पास करके 361 रैंक परिणाम हासिल किया, यह उनकी कड़ी मेहनत का फल था।

अन्सार हर युवा वर्ग के लिए एक प्रेरणा दायक हैं। जो अपनी आर्थिक स्थिति और अपने धर्म और जाति को कठिनाई के रूप में देखते हैं। अन्सार ने काफी कठनाई का सामना किया था। और अपनी मेहनत और लगन से आई.ए.एस की डिग्री प्राप्त की, अंसार ने IAS अफसर बनकर साबित किया, कि यदि आपके अंदर कुछ बनने का जूनून है, तो कोई भी परिस्थिति आपके मनोबल से बड़ी नहीं है। Success Story of IAS Ansar Shaikh

 

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें…

One Comment

Leave A Reply