The Amazing Facts

स्वस्थ जीवन के 10 नियम | 10 Rules of Healthy Life in Hindi

SHARE
, / 46 0
10 Rules of Healthy Life
10 Rules of Healthy Life

 

स्वस्थ जीवन के 10 नियम (10 Rules of Healthy Life) :

Best Health tips in Hindi – यदि हमारे शरीर की रोग प्रतिकारक क्षमता कम हो जाये, तो भिन्न भिन्न प्रकार के रोग हमें घेर लेते है। इसीलिए अपने जीवन को निरोगी रखने के लिए शरीर की इम्युनिटी का मजबूत होना बहुत जरुरी होता है। उचित और संतुलित आहार भी हमारी रोग प्रतिकारक क्षमता को बढ़ने में सहाय करता है। आइये आज हम जानेगे की हमारी रोग प्रतिकारक क्षमता को कैसे बढ़ा सकते है और कैसे निरोगी जीवन जी सकते है। 10 Rules of Healthy Life

 

(1) खाना खाते समय पानी ना पिए :

हम इस बात को बहुत अच्छे से जानते हैं की खाना खाते समय पानी नहीं पीना चाहिए। क्यूंकि जब भोजन हमारे मुह में होता है तो हमारी जबान खाने की गुणवत्ता को पहचान लेता है और उपयुक्त पाचक अम्ल हमारे पेट में रिसने लगते है ऐसे में हम भोजन के साथ पानी पीते है तो इन पाचक अम्लों की क्षमता हलकी हो जाती है और भोजन के पाचन में बाधा आती है। इसलिए हमें कभी भी भोजन करते समय पानी नहीं पीना चाहिए। Do not drink water while eating

 

(2) भोजन करने के बाद फल ना खाए :

लोग भोजन करने के बाद फल खाते है जो एक गलत आदत है। क्यूँकि फल प्रकृति द्वारा पहले से ही पचे होते है और फलों को पचाने के लिए ज्यादा उर्जा की जरुरत नहीं होती। जबकि भोजन को पचाने में 3-4 घंटे लगते है। यदि हम भोजन करने के बाद फल खाते है तो फल जल्दी हजम हो जाता है और देर में पचने वाला भोजन प्रभावित होने लगता है। जो पहले खाया है उसे पहले पचना चाहिए। इसलिए फलो का सेवन भोजन करने से पहले करना चाहिए। Do not eat fruit after meals

 

(3) रात्रि का भोजन सोने से 3 घंटे पूर्व करे :

रात का भोजन हमेशा सोने से 3 घंटे के पूर्व करना चाहिए क्यूंकि हमारा शरीर रात में सोते समय लाखों कोशिकाओं के पुनः निर्माण और पुनर्जीवन में लगा रहता है। ऐसे में यदि हम खाना खा के तुरंत सोने के लिए चले जायेंगे तो हमारा शरीर कोशिकाओं के निर्माण के जगह भोजन को पचाने में ही अपनी उर्जा को खर्च कर देगा जिससे हमारी health पे नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। Have dinner 3 hours before bedtime

 

(4) उपयुक्त मात्रा में पानी पिए :

हमारे शरीर में 70% मात्रा पानी की है इसलिए कम से कम 4-5 लीटर पानी प्रतिदिन पीना चाहिए। उपयुक्त मात्रा में पानी पीने से कब्ज नहीं होता है। पानी कभी भी RO का नहीं पीना चाहिए क्यूंकि पानी को रिवर्स ऑस्मोसिस द्वारा फ़िल्टर करने से पानी के सरे खनिज निकाल जाते है और पानी मृत हो जाता है। Drink the more water

 

(5) मल को अधिक देर तक न रोके :

हमें अपना पेट दिन में कम से कम 3 बार साफ़ करना चाहिए। हम यह शिशुओं से सीख सकते हैं कि पेट साफ़ करने के प्राकृतिक तरीके का पालन किस प्रकार किया जाता है। वे जिंतनी बार माँ का दूध पिटे हैं उतनी बार पेट साफ़ करते है। प्राकृतिक तरीका अपनाये और विषैले तत्वों और अम्लीय अवशेषों को शरीर में 24 घंटे रुकने से रोकें। Do not hold the stool for too long

 

(6) कच्चे भोजन की मात्रा बढ़ाएं :

कच्चे भोजन से तात्पर्य है अंकुरित अनाज, कच्ची सब्जियां जैसे गाजर मुली, खीरा, शकरकंद या और भी सब्जियां जो आपको स्वादिष्ट लगे उनसे है। भोजन को पकाने से भोजन का पोषण चला जाता है और फाइटो केमिकल्स विषैले केमेकल्स में बदल जाते है। इसलिए अधिक से अधिक कच्चा भोजन करने की आदत डाले। Increase the raw food

 

(7) गहरी सांस लेने की आदत डाले :

हम अपने फेफड़े की मात्र 25% क्षमता का प्रयोग करते है और ज्यादातर हलकी सांस लेते है जो की एक गलत आदत है। स्वस्थ सांस लेने के गहरी सांस लेने का अभ्यास करे जिससे फेफड़ो को फैलने की अधिक जगह मिल सके। इससे हमें कई फायदे मिलते है जैसे की दिमाग एकाग्र होता है, तनाव कम होता है, अधिक मात्र में ऑक्सीजन मिलने से फेफड़े के रोग भी कम होते है। Get used to deep breathing

 

(8) योग व्यायाम या सैर करे :

सुबह की हवा में प्रदुषण न्युनतम होता है इसलिए प्रतिदिन सुबह प्राणायाम, व्यायाम, सूर्य नमस्कार या फिर टहलने की आदत डाल ले। आपको जो तीनो में से जो भी उचित लगे उसे अपने जीवन का अभिन्न अंग बना ले क्यूँ ये आदत आपकी Health के लिए बहुत बहुत जरुरी है। Do yoga exercises or walks

 

(9) शौच जाने से पूर्व पानी पिए :

सुबह सौंच जाने से 1 घंटे पूर्व 1 गिलास गुनगुना पानी प्रतिदिन ले। ऐसा करने से मल भी ढीला हो जाता जिससे कि कब्ज, गस इत्यादि रोग भी दूर होते है और पेट की जठराग्नि भी बढती है। Drink water before defecation

 

(10) शाकाहार भोजन को बढ़ावा दे :

कहते है जैसा अन्न वैसा मन इसलिए शाकाहारी भोजन को अधिक प्राथमिकता दे क्यूँकि शाकाहारी भोजन मांसाहार की तुलना में अधिक जल्दी पचता है और पेट से सम्बंधित रोग कम होते है। Promote vegetarian food

-10 Rules of Healthy Life

_

_

कहानी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइनकरें…

 
यह लेख आपको कैसा लगा ? आप अपने विचार और सुझाव नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।